ग्लोबल हैप्पीनेस रिपोर्ट 2023;चीन में 91% लोग खुश भारत में?

ग्लोबल हैप्पीनेस रिपोर्ट 2023

मार्केट रिसर्च कंपनी इंफोसिस का 32 देशों पर सर्वे ,चीन में 91% भारत में 84% और अमेरिका में 76% लोग खुश

वर्ष 2023 की रिपोर्ट के अनुसार, फिनलैंड सबसे खुश देश माना गया है. उसके बाद डेनमार्क, आयरलैंड, इजरायल और नीदरलैंड हैं. फिर स्वीडन, नॉर्वे, स्विट्जरलैंड, लक्जमबर्ग और न्यूजीलैंड का स्थान है. भारत 126वें स्थान पर है, जबकि 137 देशों की सूची में अफगानिस्तान सबसे अंतिम पायदान पर है

उम्र; 27-42 और 49 साल से ऊपर वाले सबसे ज्यादा और 43 से 58 वाले कम खुश

 

74 % महिलाओं ने कहा वे जिंदगी में खुश है, ऐसे कहने वाले पुरुष सिर्फ 73 % है ,देश में दिसंबर 21 के मुकाबले जनवरी 23 में खुशी लोग 2% बड़े

आयु:- दुनिया में 73% लोग मानते हैं की उनके पास जो भी है वह उनसे खुश है इनमें 15-26 वाले 73%, 27-42 वाले 75 परसेंट 43_58 वाले 71 परसेंट और 59 से ज्यादा उम्र वाले 75 परसेंट लोग का कहना है कि जीवन में खुशहाली है|

आय:- ज्यादा कमाने वाले लोग कम आय वाले की अपेक्षा ज्यादा खुशियां बटोर रहे हैं अप्पर इनकम वाले 78 परसेंट middle-income के 74 परसेंट और कम आय वाले 64% लोग खुश हैं

शिक्षा :-जीवन में हंसी खुशी का पढ़ाई लिखाई से भी गहरा रिश्ता है तभी हायर एजुकेशन लेने वाले 77 परसेंट मीडियम स्तर तक पढ़ने वाले 72 परसेंट वह कम पढ़े-लिखे 78% लोग प्रसन्न है

रोजगार :-बेरोजगारी भी जिंदगी में दुख की एक बड़ी वजह है 75 कामकाजी लोग खुद को खुश मानते हैं जबकि कोई कामना करने वाले 70% लोग का कहना है कि वह दुखी नहीं है

देश टॉप इकोनामी में सुमार जर्मनी में 67 परसेंट वह जापान में 60% लोगों ने माना है वह  प्रसन्न है|

 

पैसा; हमारे 70 प्रशन लोग देश की आर्थिक स्थिति से संतुष्ट ग्लोबल औसत 40 परसेंट

ग्लोबल हैप्पीनेस रिपोर्ट 2023;चीन में 91% लोग खुश भारत में?

73% भारतीयों ने कहा वे अपनी आर्थिक स्थिति से संतुष्ट है जबकि दुनिया में 57% ऐसे मानते हैं जापान में 22 परसेंट ही अपनी माली हालत से खुश

इकोनामी :-32 देशों में सऊदी अरब में सबसे ज्यादा 82 परसेंट लोग अपनी और अपने देश की आर्थिक स्थिति से संतुष्ट हैं चीन में 78 परसेंट भारत में 70 परसेंट कनाडा में 58 परसेंट अमेरिका में 34 परसेंट जर्मनी में 50 परसेंट वह जापान में 22% लोग देश की वित्तीय हालत को सुखद मानते हैं

जॉब:- भारत में 80 परसेंट चीन में 82 परसेंट जर्मनी में 75 परसेंट अमेरिका में 74 परसेंट और जापान में 47 पर्सेंट लोग ही अपनी नौकरी से संतुष्ट मिले

एंटरटेनमेंट:- मनोरंजन गतिविधियों तक पहुंच में भी भारत बेहतर स्थिति में है हमारे 83 परसेंट लोग ने कहा कि म्यूजिक सिनेमा और प्ले जैसी चीजों तक उनकी पहुंच आसान है

धार्मिक आजादी:- देश में 84 परसेंट चीन और अमेरिका में 6% जर्मनी में 67% वह जापान में 42% लोग धार्मिक जीवन से संतुष्ट है फ्री टाइम 79% पर्सेंट भारतीय इस बात से संतुष्ट है कि उन्हें खाली वक्त मिल जाता है 81%लोग को लगता है कि वह जिंदगी उनके नियंत्रण में है

शादी; 10 साल के बाद दुनिया में दुल्हन ढूंढना मुश्किल होगा परदेश में आसान

ग्लोबल हैप्पीनेस रिपोर्ट 2023;चीन में 91% लोग खुश भारत में?

79% शादीशुदा लोगों ने कहा कि वे खुशहाल जिंदगी गुजार रहे हैं वैवाहिक जीवन ना जीने वाले लोगों में 68 मानते हैं कि वह हंसी खुशी से रहे

विवाह :-दुनिया में 43% लोग के मुताबिक अगला 10 साल में कुंवारों लिए दुल्हन तलाश करना अवर मुश्किल हो जाएगा 22 परसेंट ही मानते हैं कि आसान होगा जबकि 35 परसेंट का कहना है कि कोई अंतर नहीं आएगा भारत में यह मानने वाले 8% ज्यादा है कि वह भविष्य में शादी के लिए लड़की ढूंढना आसान होगा

रिश्ते:- 86% भारतीय अपने बच्चों 84 परसेंट अपने जीवनसाथी और 85% अपने रिश्तेदारों से संबंधों को लेकर संतुष्ट है देश में 79% लोग दोस्तों के साथ तालमेल से भी खुश है

रंग रूप:- 83% भारतीयों को अपने रंग रूप से कोई शिकायत नहीं कोई बिल्कुल संतुष्ट है

एक्सरसाइज :85 परसेंट भारतीयों को फिजिकल एक्टिविटी को लेकर कोई मसला नहीं उन्हें लगता है कि वह पर्याप्त एक्टिव है

सोशल स्टेटस:- देश में 80%, चीन में 77%, जर्मनी में 73% ,अमेरिका में 70% वह जापान में 37% लोग समाज में अपने से संतुष्ट |

 

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top